Bootstrap क्या है, Bootstrap के फायदे, इस्तेमाल कैसे करें

| | 12 Minutes Read

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएँगे Bootstrap Kya Hai और Bootstrap Ke Fayde की पूरी जानकारी.

इसी के साथ हम आपको Bootstrap से जुड़े और भी सवालों के जवाब देंगे. जैसे कि: Bootstrap Kaise Sikhe, Responsive Website Ke Fayde इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

तो चलिए शुरू करते हैं Article Bootstrap क्या है के बारे में पढ़ने से…

Bootstrap Kya Hai

Bootstrap एक Open Source CSS Framework है, जिसका इस्तेमाल किसी भी Website को Responsive बनाने के लिए किया जाता है. इस Framework का इस्तेमाल अलग अलग Screen Size के Devices पर Web Content को सही से दर्शाने के लिए किया जाता है. इसलिए इसे Mobile First Frontend Development के नाम से भी जानते हैं.

Bootstrap में HTML, CSS, JavaScript इत्यादि Languages से बने Buttons, Text, Paragraphs, Frames इत्यादि को Manage करने के Default Codes लिखे होते हैं. इसका इस्तेमाल करके आप आपकी वेबसाइट को किसी भी Screen Orientation के लिए Supportable बना सकते हैं.

आपने कई बार Notice किया होगा, कुछ Websites का Design कहीं भी Open करो, तो उनका Layout Same रहता है. वो इसलिए क्योंकि कोई भी CSS Code बार बार नही लिखा जाता, उसकी जगह पुराने Code को ही Copy/ Paste करके Use किया जाता है.

इस CSS File के Classes एवं ID (Selectors) को उस Project के HTML Elements में Use करते हैं. इससे उनका बहुत Time और मेहनत बचता है. Twitter Company के Ex-Employee Mark Otto and Jacob ने August 2011 में Bootstrap को Git-Hub पर Open-Source Product की तरह Release किया था.

June 2014 में Bootstrap GitHub का No.1 Project बन गया था. Actual में देखा जाए तो Bootstrap में सिर्फ इतना किया गया कि HTML, CSS और JavaScript की Help से इसमें Common Components के नाम को Same रखा गया है.

कोई भी Developer इस Code को आसानी से Copy-Paste करके कहीं भी इस्तेमाल कर सकता है.

Bootstrap Ke Fayde

1. Easy to Use: जिसे भी HTML एवं CSS की Basic Knowledge है, वो बहुत आसानी से Bootstrap को Use कर सकता है. इसको इस्तेमाल करने के दो तरीके हैं.

  • आप इसकी Official Website Link से आपके Page में Implement कर सकते हैं.
  • आप इसकी Offline File को Modify कर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

2. Saves Time: Bootstrap में कई सारे Ready-Made Code लिखे होते हैं. आपको बस इन्हे सही जगह पर Use करना होता है. ऐसा करने से आपका बहुत सारा Time Save होता है.

3. Responsiveness: Bootstrap को Responsive Website बनाने के लिए बनाया गया है. इसका इस्तेमाल आप जिस भी Website में करते हैं, उसे आप किसी भी Desktop, Laptop, Tablet, Mobile इत्यादि Devices में इस्तेमाल कर सकते हैं.

इसके इस्तेमाल से आपको वह Website बिलकुल Fit to Device नजर आती है.

4. Customizable: Bootstrap की In-Built Style को Change करने के लिए आपको अपना, CSS Code लिखकर Bootstrap Code पर Overwrite करना होता है.

Bootstrap Istemal Kaise Kare

Bootstrap को आप 2 तरह से Use कर सकते हैं:

1.Download करके.
2.CDN के जरिए: इसके लिए आपको बस निचे दिए Code को इस्तेमाल करना होता है.
<!DOCTYPE html>
<html lang="en">
<head>
	<title>Bootstrap Example</title>
	<meta charset="utf-8">
	<meta name="viewport" content="wIDth=device-wIDth, initial-scale=1">
	<link rel="stylesheet" href="https://maxcdn.bootstrapcdn.com/bootstrap/3.3.7/CSS/bootstrap.min.CSS">
</head>
<body>
<H1> Hello Gyanians </H1>
	<script src="https://ajax.googleapis.com/ajax/libs/jquery/3.2.0/jquery.min.js"></script>
	<script src="https://maxcdn.bootstrapcdn.com/bootstrap/3.3.7/js/bootstrap.min.js"></script>
</body>
</html>

ऊपर दिए Code को Copy करने के बाद आप Bootstrap से जुड़े सभी Ready Made Components ( Container, GRID, Typography, Images, Jumbotron, Forms, Menu Bar इत्यादि) को Copy/ Paste करके Use कर सकते हैं. आप चाहे तो अपना Custom CSS Add करके यह Style Modify कर सकते हैं.

Extra Tip: Internet पर आपको इसके Tutorials, Video/ Text दोनों ही Format में मिल जाते हैं. इसलिए अगर आपको HTML, CSS का Basic Knowledge है, तो आप बहुत आसानी से Bootstrap भी सीख सकते हैं. इसके लिए आप W3 School और YouTube की Help ले सकते हैं.

Website Ko Responsive Kaise Banaye

Responsive Website बनाना बहुत आसान है. इसके लिए आपको बस HTML, CSS का अच्छा Knowledge होना चाहिए,

Responsive Website Ke Fayde

1. Search Engine Prefer Responsive Websites: सभी Search Engines Responsive Website को ज्यादा Prefer करते है. अगर आपकी Website Responsive है तो Search Engines आपकी Site के Rank को बढ़ाती हैं. फिर इससे आपके पास सबसे ज्यादा Traffic आता है.

2. Mobile Use Is on The Rise: इस दुनिया में लोगों से ज्यादा Mobiles मोजूद हैं. अब ज्यादातर लोग Internet चलाने के लिए अलग-अलग Screen Size के Mobiles का Use करते है, अगर आप चाहते हो की आपकी Website हर तरह के Screen Size पर सही से चले तो आपके लिए इसका इस्तेमाल करना जरुरी है.

3. Positive User Experience: Responsive Website पर उसके Visitors को अच्छा Experience मिलता है, क्योंकि वह Navigate करना आसान होता है. इससे आपके Website की Bounce Rate कम रहती है और आपकी Business Reputation भी अच्छी बनी रहती है.

4. Responsive Website Is Preferred for SEO: Responsive Website होना भी SEO का एक बहुत Important Factor है. Responsive Website की Loading Speed Fast होती है.

5. An Investment For The Future: कल किसे पता कि, कौन से Screen Size का Computer, Mobile Market में आ जाए, लेकिन अगर आज आपका Website Responsive है तो आपको कल की चिंता करने की कोई जरूरत नही है.

आशा करते हैं आपको Bootstrap Kya Hai और Bootstrap Ke Fayde, पोस्ट पसंद आई होगी.

अगर आपको इस Post से Related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे Comment करें. अगर आपको यह Post पसंद आई तो अपने दोस्तों के साथ जरुर Share करें.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Aryan है. मैं gyanians.com का Writer हूँ. मुझे हिंदी में Educational Blogs लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी तरह के Wordpress से जुड़ी जानकारी एवं Technical Course Exams की जानकारी पहुंचाना चाहता हूँ. मेरा आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाता रहूँगा.

Questions Answered: (15)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *