WordPress Ping List Se Blog New Post Fast Index Kaise Kare

WordPress Ping List Se Blog New Post Fast Index Kaise Kare

WordPress Ping List and Update servicesHello Gyanians, आज बात करेंगे WordPress ping list के बारे में और सीखेंगे की कैसे आप WordPress ping list की help अपनी new blog posts को बहुत ही fast index कर सकते हो और इसके अलावा हम बात करेंगे WordPress ping list के advantages और disadvantages के बारे में.

मैंने ये बहुत देखा है की ज्यादातर bloggers इस बात से बहुत ज्यादा परेशान रहते हैं की उनकी blog posts लगभग सभी search engines में बहुत दिनों बाद index होती है और कभी-कभी तो ऐसा होता है की वो जिस event के लिए posts करते है वो event ही निकल जाता है.

इसके अलावा कभी-कभी ऐसा भी होता है की हम किसी trending topic पर अपने competitors से पहले post करते है लेकिन उनकी post हमारे post से पहले search engines में index हो जाती है और ऐसे में हमारी सारी मेहनत पर पानी  फिर जाता है.

आप कितनी भी well SEO optimized posts लिख लीजिये अगर वो search engines में fast index नही होंगी तो आपको उन posts से उतना advantage नही मिल पायेगा जितना वो posts deserve करती है इसलिए blog posts का search engine में fast indexing होना बहुत जरुरी है.

अगर आप चाहते हो की आपकी blog posts जल्दी से जल्दी search engines में index हो जाएं तो इसके लिए आपको WordPress की Update Services यानी ping list को जरुर use करना चाइये. आइये जानते है WordPress ping list क्या है?

 

What is Pinging / Ping Services / Update Services in Hindi

जैसा की आप जानते ही हैं की सभी search engines like google सभी sites के pages और posts को index करने के लिए अपने crawler bots को minutes, hours, day, weeks या months यानी किसी randomly time के अंतराल पर उन sites पर भेजते हैं.

अब क्योंकि crawler bots का sites पर आने का कोई fix time नही होता है इसलिए हमे अपने new blog posts को index करने के लिए सिर्फ wait ही करना होता है लेकिन pinging एक ऐसी service है जिसकी help से आप crawler bots को अपनी site पर जल्दी से जल्दी call कर सकते हो.

Ping service XML–RPC (Remote Procedure Call) पर आधारित एक service है जो आपके अपने blog पर कोई new posts करने पर या पुरानी posts को update करने पर search engines, blog directories, RSS और feed websites को एक signal send करती है.

Ping service का ये signal उन sites (bots) के लिए notification होता की वो आपके sites पर जल्दी से जल्दी आकर आपके new update content को crawl करें और फिर इस तरह आपका new updated content बहुत ही जल्दी search engines में index हो जाता है.

 

WordPress Ping List क्या है?

जब भी अपने blogs में कोई new posts करते है या पुरानीं posts को update करते है तो WordPress automatically अपनी update services में मौजूद ping list यानी ping service sites को एक signal (notification) send कर देता है.

उसके बाद ping services sites उस signal को सभी search engines और directories पर send कर देती हैं as a crawling invitation और फिर कुछ इस तरह आपका content search engines में बहुत ही fast index हो जाता है.

जैसा की मैंने अभी आपको बताया की WordPress में ये built-in ability होती है की वो automatically update services में listed सभी ping sites को pings (notify) कर देता है किसी new post और updates के बारे में.

By default WordPress की update services में सिर्फ एक ही ping service (rpc.pingomatic.com) add होती है. Ping-O-Matic’s server की ये ping service बहुत popular है लेकिन अगर आप चाहो तो अपने WordPress की update services में और ping list (service) add कर सकते हो.

मैंने काफी research के बाद एक ping list 2017 तैयार की है जिसे आप अपने WordPress update services में add कर सकते हो और अपने blog posts को superfast तरीके से index कर सकते हो.

 

 

Best WordPress Ping List for 2017 [Updated]

Best WordPress Ping List for 2017 [Updated]

http://bing.com/webmaster/ping.aspx

http://blo.gs/ping.php

http://blog.goo.ne.jp/XMLRPC

http://blog.with2.net/ping.php

http://blogs.yandex.ru/

http://blogsearch.google.ae/ping/RPC2

http://blogsearch.google.at/ping/RPC2

http://blogsearch.google.be/ping/RPC2

http://blogsearch.google.bg/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ca/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ch/ping/RPC2

http://blogsearch.google.cl/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.cr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.hu/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.id/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.il/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.in/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.it/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.jp/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.ma/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.nz/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.th/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.uk/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.ve/ping/RPC2

http://blogsearch.google.co.za/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.ar/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.au/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.br/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.co/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.do/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.mx/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.my/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.pe/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.sa/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.sg/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.tr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.tw/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.ua/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.uy/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com.vn/ping/RPC2

http://blogsearch.google.com/ping/RPC2

http://blogsearch.google.de/ping/RPC2

http://blogsearch.google.es/ping/RPC2

http://blogsearch.google.fi/ping/RPC2

http://blogsearch.google.fr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.gr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.hr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ie/ping/RPC2

http://blogsearch.google.in/ping/RPC2

http://blogsearch.google.it/ping/RPC2

http://blogsearch.google.jp/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ki/ping/RPC2

http://blogsearch.google.kz/ping/RPC2

http://blogsearch.google.la/ping/RPC2

http://blogsearch.google.li/ping/RPC2

http://blogsearch.google.lk/ping/RPC2

http://blogsearch.google.lt/ping/RPC2

http://blogsearch.google.lu/ping/RPC2

http://blogsearch.google.md/ping/RPC2

http://blogsearch.google.mn/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ms/ping/RPC2

http://blogsearch.google.mu/ping/RPC2

http://blogsearch.google.mv/ping/RPC2

http://blogsearch.google.mw/ping/RPC2

http://blogsearch.google.nl/ping/RPC2

http://blogsearch.google.no/ping/RPC2

http://blogsearch.google.nr/ping/RPC2

http://blogsearch.google.nu/ping/RPC2

http://blogsearch.google.pl/ping/RPC2

http://blogsearch.google.pn/ping/RPC2

http://blogsearch.google.pt/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ro/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ru/ping/RPC2

http://blogsearch.google.rw/ping/RPC2

http://blogsearch.google.sc/ping/RPC2

http://blogsearch.google.se/ping/RPC2

http://blogsearch.google.sh/ping/RPC2

http://blogsearch.google.si/ping/RPC2

http://blogsearch.google.sk/ping/RPC2

http://blogsearch.google.sm/ping/RPC2

http://blogsearch.google.sn/ping/RPC2

http://blogsearch.google.st/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tk/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tl/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tm/ping/RPC2

http://blogsearch.google.to/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tp/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tt/ping/RPC2

http://blogsearch.google.tw/ping/RPC2

http://blogsearch.google.us/ping/RPC2

http://blogsearch.google.vg/ping/RPC2

http://blogsearch.google.vu/ping/RPC2

http://blogsearch.google.ws/ping/RPC2

http://news2paper.com/ping

http://ping.fc2.com

http://ping.rss.drecom.jp

http://ping.rss.drecom.jp/

http://pingoat.com/goat/RPC2

http://rpc.bloggerei.de/ping/

http://rpc.pingomatic.com

http://rpc.pingomatic.com/

http://rpc.twingly.com

http://rpc.weblogs.com/RPC2

http://services.newsgator.com/ngws/xmlrpcping.aspx

http://xping.pubsub.com/ping/

https://ping.feedburner.com

 

WordPress Ping List को WordPress Blog में कैसे Add / Update करते है?

WordPress में ping list को add करना बहुत आसान है आपको सबसे पहले WordPress dashboard में login करना है और फिर Settings >> Writing >> Update Services में जाकर ऊपर दी गयी best ping list को copy करके paste करना है और last में save changes के button पर click करना हैं. WordPress में ping list add करने का असर आपको अपने आप कुछ दिनों में दिखने लगेगा.

paste ping list

 

WordPress Ping List Disadvantages

ऊपर बताये गये सभी points को पढ़ कर आप WordPress ping list के advantages तो समझ ही गये. अब हम बात करते है WordPress ping list के disadvantages के बारे में और समझे की क्या ping list की वजह से search engines हमारे blog को penalty लग सकती है?

जैसा की मैंने आपको बताया की जब भी आप कोई new post करते हो या जितनी बार भी पुरानी post को edit करते हो उतनी ही बार WordPress automatically ping send करता है और अगर आप short period of time में बहुत ज्यादा times post edit करते हो तो over pings की वजह से इसे ping spam कहते हैं.

Ping spam की वजह से आपको google और other search engines आपको penlize कर सकते है लेकिन कहते है न हर problem का solution जरुर होता है. इसी तरह over pings यानी ping spam को आप WordPress ping optimizer plugin की help से control कर सकते हो.

pinging settings

इस plugin की help से तभी ping होगी जब आप कोई new post करोगे और इसके अलावा आपको ping now button की help से कभी भी ping कर सकते हो और अगर आप अपनी posts को बहुत ज्यादा edit नही करते हो तो आपको इस plugin की कोई जरूरत नही हैं.

 

Hello Gyanians, आशा करता हूँ की आपको ये “ WordPress Ping List Se Blog New Post Fast Index Kaise Kare” post पसंद आई होगी. अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.

18 responses to “WordPress Ping List Se Blog New Post Fast Index Kaise Kare”

  1. Just added the list to my WordPress blog 😉

    मुझे बड़ी परेशानी होती है कभी-कभी एक week तक लग जाता है new blog post index होते-होते, अब देखते हैं कितना टाइम लगता है 😉

    Thank you brother informative article और ping list के लिए.

  2. Dev Rathore says:

    आपने इसकी disadvantage बताकर मुझे confuse कर दिया समझ नहीं आया आपकी इस लिस्ट का use करू या ना करू| आपकी क्या राय है आप use करते है या नहीं| बताने का कष्ट करे
    thanks for sharing this post..

    • Agr aapki post within day me index ho jaati hai to jarurt nhi hai … agr time jyada lagta hai to kar skte hain…
      Ya post Edit time par ping list ko cut kar lijiye or edit ko edit finish hone par bapas paste kar dijiye…
      keep visiting brother ~

  3. Sir Bahut acchi post….. par Sir kya aapne jo ping list di hain un sabhi ko copy karke wordpress me save karna hain yaa unme se kisi yek ko select karke?

  4. Ankit Kumar says:

    Thanks bhai for sharing this article.

  5. Mukesh Gupta says:

    Bohut hi kam ki post likhi aapne nice

  6. Sanjay says:

    Thanks for sharing this list but some of the link in above given reference are broken and outdated.
    Waise, bahut hi kamaal ka concept hai aapka blogging ka. Like it.

  7. shubham says:

    thanku brother for this nice information. Ap ne ek sawal ka jawab se diya jiski talash me hum yha aye the… keep writing 🙂

  8. Pravin says:

    Thanks for sharing wonderful article…..
    Mere 2 sawal hai..

    1. Aapne jo best ping list di hai wo maine add nahi kiya hai. lekin mere word bloag me blog me “WordPress ping optimizer plugin” install hai aur :No Self Pings” install hai. kuch fark to nahi padega na….kya ab wo list add kar sakta hu…spaming to nahi hogi naa..

    2. Maine ek apna blog blogger se wordpress me transfer kiya hai. usme jo adsense ad lage hai. jo blogger me post ke bich lagaye gaye the.. wo ads abhi nikalna jaruri hai kya?

    • 1. agr aapne pehle se ping plugin install kar rakhi hai to ye list add mat kariye. 2. Add nikalna jaruri nhi hai lekin agr aap wordpress ads injector plugin se bhi ads post me add karte ho to un posts me jyada ads ho jayenge isliye nikal den to jyada accha hai and thanks for compliments, keep visiting ~

  9. Pravin says:

    Bhai muze aur kuch puchna hai. aap konse ad use karte ho. aapke site par to google ke ad nahi dikh rahe hai. aur dusre koi bhi ad nahi dikh rahe hai.

    • Brother main sirf sunday ko post likhkar schedule par laga deta hun … yaani main sirf abhi passion ke liye blogging karta hun.. isliye abhi isse earning ke liye kuch nhi socha …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *