CMS क्या है, CMS का मतलब क्या होता है, जरुरत क्यूँ पड़ी, फायदे

CMS Kya Hai, CMS का मतलब क्या होता है, जरुरत क्यूँ पड़ी, फायदे

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएँगे की CMS क्या है और CMS का मतलब क्या होता है की पूरी जानकारी.

साथ ही हम आपको CMS से जुड़े और भी सवालों के जवाब देंगे. जैसे की: CMS की जरुरत क्यों पड़ी, CMS के Components, CMS काम कैसे करता है, CMS के फायदे इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेंगे.

तो चलिए शुरू करते हैं Article CMS क्या है पढ़ने से…

CMS Kya Hai

CMS एक Software Application Tool है. इस Application Tool की मदद से उपयोकर्ता अपने Digital Content को Manage कर सकता है. इसकी मदद से User Website को Develop कर सकता है.

इस Software Program में Website का Structure पहले से बना होता है. यदि User को Programing आती है तो वह इस Website को अपनी जरूरत के अनुसार Edit कर सकता है.

CMS के उपयोगकर्ता को Graphics User Interface की सुविधा प्रदान करता है. इस सुविधा की मदद से User आसानी से Website को Manage कर सकता है. CMS के माध्यम से अपनी Website के Article, Image, Video, Audio को Manage कर सकते है.

CMS Ka Matlab Kya Hota Hai

CMS का मतबल Content Management System होता है. यह एक Software Program Tool है. इसकी मदद से Website को Design और Develop कर सकता है. इसके उपयोग से User Website को जरूरत के हिसाब से Adjust कर सकता है.

इस Software में कई अलग-अलग तरह की सुविधा दी जाती है. इस System में User Theme और Plug in को Install कर सकते हैं. Website को Edit करने के साथ ही इसमें नए Feature को जोड़ा जा सकता है.

इसमें कई सारे Function उपलब्ध होते हैं. CMS User को User Friendly Interface की सुविधा देता है User किसी भी Function को एक एक Click की मदद से Active और Deactivate कर सकता है.

CMS की जरुरत क्यों पड़ी

किसी Website को बनाने के लिए बहुत ज्यादा Coding करनी पड़ती है. Coding के लिए Programmer को अलग-अलग Programming Language का ज्ञान होना जरुरी होता है.

Website Design करते समय Programing Code के Proper Function का भी बहुत ध्यान देना होता है. इसके साथ ही Coding करने के लिए कई Language जैसे- Java, Html, C++ इत्यदि Language का आना जरुरी होता है.

एक Website को बनाने में कम से कम 4 से 5 दिनों का समय लगता है. इसी समस्या को दूर करने के लिए CMS को Developed किया गया.इसकी मदद से User 10 से 15 मिनिट में एक Website को बना सकता है. इससे समय की भी बहुत बचत होती है. इसमें Website का Version पहले से ही उपलब्ध होता है.

CMS के कॉम्पोनेन्ट

CMS के दो Component होते हैं:

CMA- CMA का पूरा नाम Content Management Application होता है. यह एक प्रकार का Font End Editing Component होता है. User इस Component की मदद से User Website से Interact कर पाता है. इसके द्वारा User Website के Content को Generate और Modify कर सकता है.

CDA- CDA एक Publishing Component है. User द्वारा Website के तैयार Content को Publish करने का काम करता है. CDA Tool Back End का काम करता है. यह Content को Website पर Update करता है. CDA का पूरा नाम Content Delivery Application है.

CMS काम कैसे करता है

CMS Software Application User को Graphics User Interface की सुविधा देता है. इस Interface को User देखकर और पढ़ कर Website को Manage कर सकता है.

Website को Modify करने के लिए यह अलग-अलग Function Provide करता है. दिए गए Function को Direct Website में Use कर सकते है. और Website के किसी भी Function को एक Click के द्वारा Active और Deactivate कर सकते हैं.

यह User Friendly Interface की सुविधा देता है जिसकी मदद से User को ज्यादा Coding करने की आवश्यकता नही पड़ती है. इसमें कार्य करने के लिए अलग- अलग Function उपलब्ध होते हैं. इन Function का उपयोग कर Website Design कर सकते हैं.

CMS के फायदे

CMS के फायदें इस प्रकार हैं-

  • Website को कम समय में Design किया जा सकता है.
  • ज्यादा संख्या में Plugins और Extensions उपलब्ध है.
  • User Friendly Interface की सुविधा देता है.
  • कम लगात में Website Develop की जा सकती है.
  • Website के Content को Modify और Mange करना आसन है.
  • Seo के अनुसार Feature की सुबिधा है.
  • Website के Article, Image, Video, Audio को आसनी से Manage किया जा सकता है.
  • Back End Coding कम करनी पडती है.
  • यह एक Open Source है. बिना किसी शुल्क के इसे उपयोग कर सकते है.
CMS के उदाहरण

CMS के उदाहरण इस प्रकार-

  • Word Press
  • Joomla
  • Drupal
  • Magento
  • Square Space
  • Wix
  • Ghost
  • Open Cart
CMS के नुकसान

CMS के नुक्सान इस प्रकार है-

  • इसमें Back Functionality उपलब्ध नही है.
  • Content Uploading में समय लेता है.
  • User को Website के कार्यों के लिए Plugins पर निर्भर रहना होता है.
  • बड़े प्रोजेक्ट को Maintain नही कर पाता है.
  • Content Update के दौरान Traffic बहुत होता है.
  • Website Update में ज्यादा Load लेती है.
  • इसमें ज्यादा Content को एक साथ Manage करना आसन नही.
  • कई Plugins बहुत महंगे होते है.
  • ज्यादा Plugins के इस्तेमाल से Website की Speed कम हो जाती है.
CMS Kya Hai – FAQs
CMS Ka Full Form Kya Hai

CMS का Full Form Content Management है.

सीएमएस से आप क्या समझते हैं

यह एक Software Application Tool है. इस Tool में Website Design और Develop करने के लिए अलग-अलग Function की सुविधा मिलती है. इसकी मदद से Website को User जरूरत के अनुसार Modify कर सकता है.

आशा करते हैं आपको हमारी पोस्ट CMS Kya Hai और CMS Ka Matlab Kya Hota Hai, पसंद आई होगी.

अगर इसके बाद भी आपको कोई सुझाव या समस्या है तो आप निचे दिए Comment Box का पूरा लुफ्त उठा हमसे सवाल पूछ सकते हैं.

Questions & Answer:
Live Site Ko Localhost Par Use Kaise Kare - WordPress Tutorial in Hindi

Live WordPress Site को Localhost पर Copy कसी करे Tutorial in Hindi

WordPress

WordPress Widget ID कैसे Find करे Without Plugin | WordPress Tutorial in Hindi

WordPress
Truecaller Se Kya Hota Hai और Truecaller Par Number Kaise Dekhe

Truecaller से क्या होता है-Truecaller पर नंबर कैसे देखे |Truecaller Download Apk

Apps
Author :
सु-सुवागातम Gyanians इस वेबसाइट का मकसद है लोगो को हिंदी भाषा में ज्ञान प्रदान करना उनके द्वारा पूछे गए प्रिश्नों के उत्तर देना और यह कार्य करने के लिए हम तात्पर्य है. आप Gyanians को लोगों के साथ शेयर करके हमारी सहायता कर सकते है .
Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *