DBMS क्या है, डेटाबेस कितने प्रकार के होते हैं, लाभ, Full Form

| | 10 Minutes Read

क्या आप Database से जुड़ी जानकारी के बारे में खोज रहे हैं? क्या आप Database के कितने प्रकार होते हैं के बारे में जानना चाहते हैं, क्या आप Database के Field में Carrier की शुरुआत करने की जानकारी ढूंड रहे हैं? अगर हाँ, तो आप सही जगह हैं.

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएंगे की DBMS क्या है, DBMS कितने प्रकार के होते हैं, DBMS का इस्तेमाल करने के फायदे और नुक्सान, DBMS सिखने के बाद मिलने वाली Job और इसी के साथ साथ Fresher अथवा Experienced Employee को मिलने वाली Salary इत्यादि की पूरी जानकारी विस्तार में जानेँगे.

तो चलिए  शुरू करते हैं Article DBMS Kya Hai और Database Kitne Prakar Ke Hote Hain पढ़ने से…..

DBMS Kya Hai

DBMS एक Application Software है, जिसे Database का साथ Interact करने के लिए बनाया गया है. यह Users को बेहद आसान Queries की मदद से Database में Manage, Edit, Modify करने की सुविधा उपलब्ध कराता है. DBMS एक Backend Software है, जो किसी भी Framework के साथ जुड़कर Backend से Data का लेन देन आसान करता है.

यह User और Database के बिच में एक Medium की तरह काम करता है. इसमें Saved Data, आम इंसानो के समझने के लिए मुश्किल है. इस Data को System द्वारा Fetch, Delete, Update करना आसान होता है. DBMS हम Collected Data के समूह को Database कहते हैं और इन Records को सँभालने के लिए इस्तेमाल होने वाली प्रणाली को Management System कहते हैं.

DBMS एक तरह का File/ Data Managing Software है, जो की Server पर Websites की मदद से Data लेकर Save करता है. इस Data को Manipulate करने की अनुमति बस इसकी Programming करने वाले Employees और उस Company में काम करने वाले Managers रहती है.

Database Kitne Prakar Ke Hote Hain

1.Distributed Database Management System.
2.Hierarchical Database Management System.
3.Network Database Management System.
4.Relational Database Management System.
5.Object-Oriented Database Management System.
1. Distributed Database Management System:

यह Data को सुरक्षित रखने का वह तरीका है जिसमें कई सारे अलग Regions के Servers पर, Data को बाँटकर रखा जाता है. इस विधि में अगर कभी किसी एक Server में किसी प्रकार की खराबी आती है, तो उससे जुड़े Websites और Data पर किसी प्रकार का प्रभाव नही पड़ता है.

इसके अलावा बाकी के अन्य Servers पर इसकी जानकारी Backup के तौर पर पहले से मौजूद रहती है. यह Data, Online Network के माध्यम से कहीं भी, कभी भी, किसी को भी भेजा जा सकता है.

2. Hierarchical Database Management System:

यह Data को सुरक्षित रखने का वह तरीका है, जिसमें Data को Tree के Structure में Store किया जाता है. इस विधि में Data को Record के Form में रखा जाता है. यहाँ पर उपलब्ध हर Record एक दूसरे से Link के रूप में Connected रहता है और हर Record में कई सारे Fields रहते हैं.

आप एक Field में बस एक ही तरह का Data रख सकते हैं.

3. Network Database Management System: 

यह Database Model, Network Model से मेल खता है, इसमें हर Record, कई सारे Primary Records और Secondary Records के साथ जुड़ा होता है. यह Model, Hierarchical Model को देखते हुए बनाया गया था. इसमें हर Object के कई सारे Parents होने की वजह से इसको संभालना थोड़ा Complex हो जाता है.

4. Relational Database Management System: 

यह Database, Data को संभालने का वह तरीका है, जिसमें सभी Information को इकठ्ठा करके Rows और Columns के Form में रखा जाता है. इन Rows और Columns से बने Information को हम Tables से जानते हैं. इन Tables में अत्यधिक डाटा होने के कारण, इन Tables को Normalization विधि द्वारा बांटा जाता है.

यह Tables एक दूसरे से किसी न किसी Relation द्वारा जुड़े होते हैं. इसमें User को एक Simple Medium मिल जाता है, जहाँ वह Simple Queries चलाकर Data के Tables को Manage कर सकता है.

5. Object-Oriented Database Management System: 

यह Data को सँभालकर रखने का वह तरीका है, जिसमें Information को Object की तरह रखा जाता है और इन Information को आगे चलकर Object-Oriented Programming की तरह इस्तेमाल किया जाता है. यहाँ पर Saved Data भी Table के Format में होते हैं पर वो Relational Database से अलग होते हैं.

इन Data का इस्तेमाल Different Logics की तरह किया जाता है.

DBMS Ke Karya

1. DBMS का काम End User को Backend का Data, Graphical Form में Show करना होता है.

2. DBMS की मदद से कोई भी Admin यह चार Operations आसानी से Apply कर सकता है:

  • Create.
  • Read.
  • Update.
  • Delete.

3. DBMS, सभी Database Engines को Manage करने का काम करता है.

4. यह Database Schema को Follow करते हुए Application Framework को Manipulate करने की सुविधा देता है.

5. यह हमारे डाटा को सुरक्षा, Duplicacy, Repetition इत्यादि जैसी समस्याओं से बचाता है.

6. DBMS को इस्तेमाल करना बहुत आसान है.

7. इसमें Data को Normalization विधि से छांटा जाता है, जिससे सभी डाटा को छोटे छोटे Tables में बाँटकर रखना आसान होता है.

DBMS Ke Labh

1. यह हमारे Database में होने वाले Data Redundancy को ठीक करने में मदद करता है.

2. यह हमारे Database में Data की सूरक्षा को बेहतर तरीके से Manage करने में मदद करता है.

3. यह हमारे Data की सुरक्षा के साथ साथ उन्हें Leak होने से बचाता है.

4. यह हमारे Data के Backup और Recovery का ध्यान Automatically करता है.

5. यह हमारे Database की स्थिरता को बनाए रखता है.

6. यह सभी तरह के फालतू/ Duplicate Data की Entry को पहले से ही रोक देता है.

7. यह Platform Data की सुरक्षा को लेकर बनाया गया है.

DBMS Jobs for Freshers

किसी भी Fresher को अगर इस Field में Job करनी है, तो उस व्यक्ति को इसमें इस्तेमाल होने वाले Softwares और इस्तेमाल होने वाली Quries को चलाने आना चाहिए. कुछ नामी Softwares इस प्रकार हैं. जैसे कि: PL SQL, Oracle RAC, Apache, RabbitMQ, My SQL इत्यादि.

  • Database Management System Kya Hai

    Database Management System Data को Server पर रखने के लिए इस्तेमाल होने वाला एक Application Software है.

  • DBMS Jobs Salary

    DBMS में आपकी Salary ₹2 लाख से लेकर ₹40 लाख रूपए सलाना तक की हो सकती है.

  • DBMS Ka Full Form

    DBMS का Full Form Database Management System होता है.

आशा करते हैं आपको DBMS Kya Hai और Database Kitne Prakar Ke Hote Hain पोस्ट पसंद आई होगी.

अगर आपको इस Post से Related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे Comment करें. अगर आपको यह Post पसंद आई तो अपने दोस्तों के साथ जरुर Share करें.

Author:

Hello!! दोस्तों मेरा नाम Saloni है. मैं gyanians.com की Writer हूँ. मुझे Softwares से जुड़ी हिंदी में लिखना पसंद है. मैं इन Blogs की मदद से आप तक सभी तरह के Softwares की जानकारी पहुंचाना चाहती हूँ. मेरी आपसे निवेदन है की आप इसी तरह मेरा सहयोग देते रहें और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ मेरे लिखे Content को शेयर करें. मैं आप सभी के लिए Latest जानकारियाँ उपलब्ध करवाती रहूँगी.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *